Deoria news: डीएम की अध्यक्षता में जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति तथा जनपदीय टास्क फोर्स सदस्यों की बैठक हुई संपन्न

Deoria news: डीएम की अध्यक्षता में जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति तथा जनपदीय टास्क फोर्स सदस्यों की बैठक हुई संपन्न

समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारियों को प्रत्येक माह कम से कम 125 विद्यालयों का निरीक्षण करने हेतु दिया निर्देश

देवरिया(सीमा-रेखा) 08 अक्टूबर। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में जिला शिक्षा एवं अनुश्रवण समिति तथा जनपदीय टास्क फोर्स सदस्यों की बैठक विकास भवन के गांधी सभागार में सम्पन्न हुई। बेसिक शिक्षा / सर्व शिक्षा अभियान तथा मध्यान्ह भोजन योजनान्तर्गत संचालित योजनाओं की बिन्दुवार समीक्षा की गयी । बैठक में जिलाधिकारी  द्वारा उपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों को आवश्यक निर्देश दिये गये। 


       जिलाधिकारी ने समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारियों को प्रत्येक माह कम से कम 125 विद्यालयों का निरीक्षण करने हेतु निर्देशित किया तथा कहा कि उपस्थिति न पाये जाने की दशा में कार्य में शिथिलता मानी जायेगी एवं उत्तरदायित्व तय कर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने खण्ड शिक्षा अधिकारियों की विकास खण्ड स्तर पर उपस्थिति सुनिश्चित करने हेतु जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हरिश्चंद्र नाथ को निर्देशित किया । सभी खण्ड शिक्षा अधिकारियों को प्रत्येक विद्यालयी कार्यदिवस में स्कूल खुलने के समय ( प्रातः 09:00 बजे ) निरीक्षण हेतु उपस्थित होने हेतु निर्देशित किया। निरीक्षण का विवरण अध्यापक / बेसिक शिक्षा अधिकारी / मुख्य विकास अधिकारी / जिलाधिकारी के व्हाट्सपगूप पर उसी दिन तत्काल शेयर करने हेतु निर्देशित किया ।


       जिलाधिकारी ने सभी खण्ड शिक्षा अधिकारियों को अपने-अपने विकास खण्ड के मैनपावर यथा अध्यापकों / शिक्षा मित्रों / अनुदेशकों की संख्या, अध्यापक एवं छात्रों का पीटीआर कितने अध्यापक / अध्यापिका आकस्मिक अवकाश / मैटरनिटि लीव आदि पर है, नामांकन आदि का विवरण आगामी समीक्षा बैठक  18 अक्टूबर को प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया। प्रत्येक खण्ड शिक्षा अधिकारियों को आधार विहिन बालक एवं बालिकाओं का आधार शत्-प्रतिशत् बनाने हेतु 18 अक्टूबर की अंतिम तिथि प्रदान की गयी। जिस भी विकास खण्ड के खण्ड शिक्षा अधिकारियों द्वारा उक्त निर्धारित तिथि तक अपने विकास खण्ड के आधारहीन बच्चों का आधार शत-प्रतिशत् नहीं बनवाया जाता है तो उसको डिफाल्टर्स के श्रेणी में रखकर 18 अक्टूबर को जिलाधिकारी के समक्ष प्रस्तुत होने हेतु निर्देशित किया गया


       ऑपरेशन कायाकल्प में 19 पैरामीटर्स के अन्तर्गत संतृप्तीकरण हेतु सभी खण्ड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया । 17 एवं 18 पैरामीटर्स में जो 2 या 01 पैरामीटर्स से शत्-प्रतिशत् संतृप्त नहीं हो पा रहे है, उसको अपने विकास खण्ड के खण्ड विकास अधिकारी, सहायक विकास अधिकारी (पंचायत), जिला विकास अधिकारी एवं जिला पंचायत अधिकारी से समन्वय स्थापित कर संतृप्त कराने हेतु जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया। साथ ही आगामी समीक्षा बैठक में 19 पैरामीटर्स के संतृप्तीकरण के सम्बन्ध में विस्तृत समीक्षा की जायेगी।। खण्ड विकास अधिकारी की अध्यक्षता में साप्ताहिक आयोजित होने वाली बैठको के सम्बन्ध में निर्गत कार्यवृत्त के सापेक्ष उसका अनुपालन सम्बन्धित अधिकारियों से सुनिश्चित कराने हेतु जिला समन्वयक (निर्माण) को अधिकृत किया गया तथा निर्देशित किया गया कि माह सितम्बर 2022 में निर्गत कार्यवृत्त के सापेक्ष विकास खण्डवार प्राप्त समस्याओं का एक चार्ट तैयार कर 08 अक्टूबर को मुख्य विकास अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत किया जाए तद्नुसार आगामी समीक्षा की जायेगी।  विद्युत संयोजन विहिन विद्यालयों के सम्बन्ध उपस्थित खण्ड शिक्षा अधिकारियों को जिलाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि सम्बन्धित विभाग के उच्चाधिकारियों से व्यक्तिगत् मिलकर उसका एक सप्ताह के अंदर निदान करावें। यदि किसी विद्यालय के प्रकरण निस्तारण नहीं हो पाता है तो मुख्य विकास अधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को अवगत कराया जाए।


         मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार द्वारा उपस्थित सभी खण्ड शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि विकास खण्डों में अध्यापकों का निपुण भारत मिशन के अन्तर्गत चल रहे प्रशिक्षण में शत प्रतिशत उपस्थिति सुनिश्चित कराया जाए तथा इसका निरीक्षण सुबह दोपहर एवं शाम को अवश्य किया जाए। अनुपस्थित पाये गये प्रशिक्षणार्थी के विरूद्ध कार्यवाही भी किया जाए।


         बैठक में जिला विकास अधिकारी के साथ-साथ प्राचार्य, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, रामपुरकारखना, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला समाज कल्याण अधिकारी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला उपायुक्त (मनरेगा), जनपदीय टास्क फोर्स के सदस्य समस्त खण्ड विकास अधिकारी समस्त खण्ड शिक्षा अधिकारी, जिला समन्वयक, सर्व शिक्षा अभियान देवरिया जिला समन्वयक ( एमडीएम ) आहूत बैठक में उपस्थित रहें।

+