Tata IPL 2022: महेंद्र सिंह धोनी नहीं करेंगे CSK की कप्तानी

Tata IPL 2022: महेंद्र सिंह धोनी नहीं करेंगे CSK की कप्तानी

नई दिल्ली, 24 मार्च: दिग्गज विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने दुनिया को एक बार फिर से चौंकाने का काम किया है। धोनी ने अचानक आईपीएल 2022 सीजन शुरू होने से पहले ही कप्तानी छोड़ने की घोषणा करके सबको हैरान कर दिया है। धोनी अजीबोगरीब फैसले लेने के लिए मशहूर रहे हैं और यह भी एक ऐसा ही फैसला है जिसको उनके फैंस अभी तक पचा नहीं पा रहे हैं। धोनी ने चेन्नई सुपर किंग्स की कमान छोड़ने की घोषणा कर दी है और रविंद्र जडेजा को उनकी जगह पर चेन्नई की फ्रेंचाइजी का नया कप्तान बनाया गया है।

धोनी का एक और हैरान करने वाला फैसला-

सभी को उम्मीद थी कि बतौर कप्तान 39 साल के धोनी का यह अंतिम आईपीएल होने जा रहा है लेकिन धोनी ने केवल एक खिलाड़ी के तौर पर ही इस सीजन में खेलने का फैसला किया है। इस बात के कयास काफी पहले लगाए जा चुके थे कि धोनी के बाद रविंद्र जडेजा की कप्तानी के योग्य उम्मीदवार होंगे लेकिन यह इसी सीजन में हो जाएगा इसकी कल्पना किसी ने नहीं की थी।

अचानक से कप्तानी छोड़ने का फैसला क्यों किया

धोनी का यह फैसला इसलिए भी चौंकाता है क्योंकि वह एक बल्लेबाज की क्षमता में पहले की तुलना में बहुत कमतर हो चुके हैं लेकिन एक कप्तान एक लीडर के तौर पर वह अभी भी अपनी टीम के लिए बहुत मायने रखते हैं और उन्होंने पिछले सीजन में ही चेन्नई सुपरकिंग्स को आईपीएल का खिताब जीता कर यह साबित भी किया था कि वह एक कप्तान के तौर पर अभी भी उतने ही मारक है। ऐसे में माही का यह फैसला गले नहीं उतरता है लेकिन चेन्नई सुपर किंग्स के मैनेजमेंट की ओर से इस बात का जवाब देने की कोशिश की गई है कि धोनी ने अचानक से कप्तानी छोड़ने का फैसला क्यों किया।

पहले से ही सब सोच-समझ रखा था

बता दें आईपीएल 2022 की शुरुआत 26 मार्च को चेन्नई सुपरकिंग्स और कोलकाता नाइटराइडर्स के मुकाबले के साथ की हो रही है। ईएसपीएनक्रिकइंफो की एक रिपोर्ट के अनुसार धोनी चाहते थे कि वह चेन्नई सुपर किंग्स की लीडरशिप का ट्रांसफर बड़े आराम से करें। वे नहीं चाहते थे कि उनके संन्यास लेने के बाद अचानक किसी कप्तान की समस्या खड़ी हो जाए इसलिए पहले ही धोनी की उपस्थिति में रविंद्र जडेजा को तैयार किया जा रहा है।

फ्रेंचाइजी का बेहतर सोचने के लिए ही यह फैसला किया

इसी रिपोर्ट में चेन्नई सुपर किंग्स के सीईओ काशी विश्वनाथ ने बताया है कि महेंद्र सिंह धोनी ने गुरुवार को टीम की मीटिंग में अपने फैसले की घोषणा की थी। विश्वनाथ ने बताया महेंद्र सिंह धोनी इसके बारे में सोच रहे थे। उनको लगा कि यह जडेजा को कप्तानी सौंपने का सही समय है। उनको लगता है कि जडेजा अपने करियर के चरम पर है और यह सही समय है कि वे चेन्नई सुपर किंग्स को इस समय लीड करें। धोनी ने फ्रेंचाइजी का बेहतर सोचने के लिए ही यह फैसला किया है।

जैसे कोहली को सौंपी थी, वैसे ही जडेजा को दे दी कमान-

सीईओ आगे कहते हैं कि हम इस फैसले से हैरान नहीं है क्योंकि वह इस बारे में जडेजा के साथ पहले ही बात कर चुके थे। विश्वनाथन ने कहा- वे और जडेजा पहले ही बात कर चुके थे। यहां तक कि अंतिम साल भी यह प्रस्ताव दिया गया था। हम जानते हैं कि धोनी के बाद जडेजा बेस्ट खिलाड़ी हैं जो कप्तानी कर सकते हैं। यह ठीक है ऐसे ही है जैसे धोनी ने विराट कोहली को कप्तानी सौंपी थी। इससे पहले उन्होंने कुछ साल विराट कोहली को इंटरनेशनल क्रिकेट में तराशने का मौका दिया था। इसी तरह से यहां पर भी कप्तानी का सरलता के साथ ट्रांसफर चाहते थे।

+