क्या डॉ फौसी ने वुहान लैब को दिए थे पैसे? चीनी वैज्ञानिक संग बातचीत के लीक हुए ईमेल ने पैदा किया शक!

क्या डॉ फौसी ने वुहान लैब को दिए थे पैसे? चीनी वैज्ञानिक संग बातचीत के लीक हुए ईमेल ने पैदा किया शक!

दुनियाभर में तबाही मचाने वाले कोरोनावायरस (Coronavirus) को लेकर चीन (China) पर आरोप लग रहे हैं कि उसने इसे वुहान स्थित लैब (Wuhan Lab) में तैयार किया है. इसी बीच महामारी विशेषज्ञ और राष्ट्रपति जो बाइडेन के शीर्ष स्वास्थ्य सलाहकार डॉ एंथनी फौसी (Dr. Anthony Fauci) और माइक्रोसॉफ्ट के मालिक बिल गेट्स (Bill Gates) के ऊपर बड़ा आरोप लगा है. दरअसल, वाशिंगटन पोस्ट के हाथ लगे डॉ फौसी के ईमेल के जरिए आरोप लगाए गए हैं कि दोनों ने वुहान लैब को पैसे दिए हैं. इसके अलावा, इस ईमेल से ये भी पता चला है कि फौसी को प्रशंसा और धमकी भरे ईमेल भी मिल रहे थे.

वाशिंगटन पोस्ट ने डॉ फौसी के 866 पन्नों वाला ईमेल चैट को हासिल किया है. इसमें जानकारी मिली है कि अमेरिकी महामारी विशेषज्ञ और चीनी वैज्ञानिकों के बीच लगातार बातचीत हो रही थी. डॉ फौसी ने वैक्सीन को लेकर बिल गेट्स को ईमेल भी किया था. यहां गौर करने वाली बात ये है कि पिछले महीने भी फौसी पर ऐसे ही सनसनीखेज आरोप लगे थे. फौसी को लेकर कहा गया था कि उन्होंने वुहान लैब को आर्थिक मदद मुहैया कराई. वहीं, ईमेल के लीक होने ने फिर से सवालिया निशान खड़ा कर दिया है. इस बात की चर्चा शुरू हो गई है कि कहीं फौसी को पहले से ही वायरस को लेकर जानकारी तो नहीं थी.

शीर्ष चीनी विशेषज्ञ और फौसी की लगातार हो रही थी बातचीत

वाशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के निदेशक डॉ जार्ज गाउ और डॉ एंथनी फौसी लगातार ईमेल के जरिए एक दूसरे से बात करते थे. इन दोनों की चर्चा का केंद्र कोरोनावायरस रहता था. पोस्ट द्वारा सार्वजनिक किए गए एक चैट में देखा जा सकता है कि दोनों के बीच बातचीत एकदम दोस्ताना अंदाज में हो रही है. इसके अलावा, वुहान लैब पर दुनियाभर में उठ रही उंगलियों के बावजूद भी फौसी चीन के शीर्ष महामारी विशेषज्ञ से इसके ऑरिजन को लेकर एक भी सवाल नहीं करते हैं.

साथ मिलकर काम करने की बात कही

रिपोर्ट के मुताबिक, चीनी विशेषज्ञ मास्क को लेकर फौसी को आगाह करते हैं और कहते हैं कि अगर अमेरिका मास्क को लेकर सख्त रूप नहीं अपनाता है तो ये बड़ा घातक साबित हो सकता है. इसी दौरान फौसी ने कोरोना को लेकर एक इंटरव्यू दिया. इस इंटरव्यू को लेकर चीनी विशेषज्ञ ने फौसी को मेल किया. जिसमें उन्होंने कहा कि आप इंटरव्यू में पत्रकारों की तरह बात कर रहे थे. आपको इस बात को समझना चाहिए. इस वायरस को खत्म करने के लिए हमें साथ मिलकर काम करना चाहिए. इसके जवाब में एंथनी ने कहा कि मैं आपकी बात को समझ गया. मुझे कोई दिक्कत नहीं है, हम साथ मिलकर काम करेंगे.

बिल और फौसी के बीच इस मुद्दे पर हुई बात

जिन ईमेल को वाशिंगटन पोस्ट द्वारा सार्वजनिक किया गया है, उसमें डॉ फौसी और बिल गेट्स के बीच हुई बातचीत की भी जानकारी है. इसमें देखा जा सकता है कि दोनों लोग महामारी की शुरुआत में इसे लेकर चर्चा कर रहे हैं. बता दें कि फौसी ने बिल गेट्स से पिछले साल एक अप्रैल को टेलीफोन पर बात की थी. इसमें उन्होंने बिल से कहा था कि वह बिल गेट्स-मेलेनिया फाउंडेशन के जरिए वैक्सीन निर्माण में सहयोग करें. वहीं, एक ईमेल में बिल गेट्स से फौसी कहते हैं कि इस महामारी को लेकर उन्हें सरकार के साथ मिलकर काम करना चाहिए.

+